सफलता प्राप्ति के अटल नियम सीखने होंगे। Learn the unshakable rules to achieve success.)

सफलता प्राप्ति के अटल नियम सीखने होंगे। Learn the unshakable rules to achieve success.)




सफलता प्राप्ति के अटल नियम सीखने होंगे। हम खुद से ज्यादा दूसरों के विषय में सोचते है। वो हमसे भाग्यशाली है, वो ज्यादा बुद्धिमान है, वो तेज़ तर्रार है। हमें हमेशा दूसरों की चिंता लगी रहती है कहीं वो हमसे आगे न निकल जाए, कही वो लोग हमारा नुकसान न कर दे। अगर हम पूरा समय दूसरों के बारे में सोचने में गुजार देंगे तो अपने भीतर छिपी संभावना को विकसित नहीं कर पाएंगे। हमें खुद को समय देना होगा, भीतर मौजूद संभावनाओं को पहचान कर उन्हें विकसित करने में समय लगाना होगा। खुद को और ज्यादा बेहतर बनने के लिए प्रोत्साहित करना होगा। और साथ ही साथ दूसरों को भी प्रेरित करने की कोशिश करनी चाहिए। ज्यादातर हमारा फोकस समस्याओं और शिकायतों पर रहता है, जब कि हमें अपने फोकस को अपने लक्ष्य पर रखने की आवश्यकता है। समस्याएं हमसे बड़ी नहीं होती हम सोच सोच कर उन्हें बड़ा बना देते हैं। हमें समाधान के विषय में सोचने की जरूरत है। सफलता प्राप्ति के अटल नियम सीखने होंगे।

इसे भी 👉 पढ़ें:-

श्रेय देना सीखना होगा

आनंदमय जीवन

सच्ची खुशी

सरल जीवन

सफल आदतें

हमेशा खुश कैसे रहें

डायमंड्स


सच्ची तारिफ करना सीखना होगा। 


सफलता प्राप्ति के अटल नियम सीखने होंगे। अगर हमें किसी व्यक्ति की कोई बात पसंद आती है तो हमें सहजता के साथ और कम शब्दों में उसकी तारीफ़ करनी चाहिए। सच्ची तारीफ करना ज्यादा मुश्किल काम नहीं होता बस सफल लोगों के प्रति नकारात्मक विचारों को सकारात्मक विचारों के साथ बदलना की आवश्यकता है।सच्ची तारिफ करने से लोग हमारे प्रति अच्छी भावनाएं रखना शुरू कर देते है और उनकी यही शुभ भावनाएं बेहतर बनने में हमारी मदद करती हैं। इसलिए हम बड़ों से आशीर्वाद लेते हैं। आशीर्वाद का अर्थ भी शुभ भावनाओं, अच्छे विचारों से होता है।  हमें आलस और गलत आदतों से दूरी बनाकर रखनी चाहिए। इन बुरी आदतों से हमें अपने आप को बचाने की आवश्यकता है। इन आदतों के कारण लोगों की हमारे बारे में ग़लत धारणाएं बनती है और उनकी ये ग़लत भावनाऐं हमें अप्रत्यक्ष रूप से आगे बढ़ने से रोकती हैं। हमारा प्रयास होना चाहिए कि लोग हमारे बारे में अच्छी सोच रखें। इसके लिए हमें खुद को निरंतर बेहतर बनाने की दिशा में काम करना होगा और दूसरों के प्रति कृतज्ञता और सम्मान की भावना रखनी होगी। जब तक तुम लक्ष्य प्राप्त न कर लो, तब तक प्रयास करना न छोड़ें। और हमें आगे बढ़ते रहना होगा बिना रूके बिना थके हिम्मत को बनाए रखना होगा क्योंकि जो हिम्मत हार जाते हैं, उनके लिए जीवन में सफलता प्राप्त करना बहुत मुश्किल होता हैं। कोई भी दुःख, समस्या इंसान के साहस के सामने नहीं टिक पाएगा बस जरूरत है उनके सामने डटे रहने की, उनसे लड़ने की। सफलता प्राप्ति के अटल नियम सीखने होंगे।

इसे भी 👉 पढ़ें :-

ज्ञान से ही भाग्य का उदय होगा

समय हाथ से निकल जा रहा है।

प्रार्थना की शक्ति

 उत्साह

जिम्मेदारी

स्वस्थ सोच

अवसर


जिंदगी देती नहीं सिर्फ लौटाती है। 

सफलता प्राप्ति के अटल नियम सीखने होंगे। जो कुछ भी हम अपने जीवन में सोचते है, काम करते है उनका परिणाम ही हमारा भविष्य होता हैं। कुछ ऐसा हो कि हम जीत भी जाएं और कोई हारे भी नहीं। खुद से प्रतिस्पर्धा करनी होगी। हमें हमेशा दूसरों की कमियां या गलतियां ही नज़र आती हैं। उन्होंने हमारे साथ ऐसा बर्ताव किया, उन्होंने हमारा सम्मान नहीं किया। उसने हमसे ऐसे बात की, उसने मेरे साथ ग़लत व्यवहार किया। कब तक छोटी छोटी बातों शिकायतें करते रहेंगे, जीवन बहुत ही शानदार है बस हमें उस नजरिए से देखने की आवश्यकता है। हमें जो मिला है उसके लिए ईश्वर को आभार व्यक्त करें और चीजों का सम्मान करना सीखना होगा। जितना हम दूसरों को सम्मान देंगे उतना ही हमें वापस मिलता जाएगा साथ ही दूसरों के आदर सत्कार में जो खुशी हमें मिलती है वो हमारे लिए सबसे बेहतरीन उपहार में से एक होगी। आभार व्यक्त करने का नजरिया हमें पाज़िटिव एनर्जी प्रदान करता हैं। और कामयाबी हासिल करने में हमें उत्साह के साथ साथ सकारात्मक ऊर्जा की भी आवश्यकता होती है। उन्नति के लिए हमें कृतज्ञता को अपनी जीवन में अपनाना ही होगा। सफलता प्राप्ति के लिए ये सबसे महत्वपूर्ण और सरल विकल्पों में से एक हैं। हर कामयाब व्यक्ति इन गुणों को अपने व्यवहार में शामिल करता है हमें भी इन बुनियादी गुणों को अपने जीवन शामिल करने की आवश्यकता है। ताकि हम अपने जीवन को पूरा विकसित कर सकें।सफलता प्राप्ति के अटल नियम सीखने होंगे।

इसे भी पढ़ें:

कोशिश करने से पीछे न हटें

- असंभव कुछ भी नहीं

ऊर्जा का स्तर

सामर्थ्य

आशावादी दृष्टिकोण

स्वस्थ जीवन जीने के तरीके


रोजाना  1% बेहतर बनाते जाएं।


सफलता प्राप्ति के अटल नियम सीखने होंगे। अगर हम अपने आप को रोजाना  1% बेहतर बनाते जाएं तो एक वर्ष में हम खुद को 1.01*365=37.78 % बेहतर बना सकेंगे और अगर हम आलस्य में समय बर्बाद करते हुए अपने आप को अपग्रेड नहीं करते तो हम 1% से डिग्रेड होते जाएंगे। जो एक वर्ष में .99*365=.03% होगा। फैसला हमें खुद करना होगा। 37.78% और .03% के बड़े अंतर को हम छोटे छोटे प्रयासों से कर सकते हैं। सफलता प्राप्ति के अटल नियम सीखने होंगे। जितना पाया उससे ज्यादा वापस करना होगा। सफलता प्राप्ति के अटल नियम सीखने होंगे। बेहतरीन भविष्य के लिए हमें जितना भी मिला है उससे ज्यादा वापस करना होगा। प्रकृति के इस अटल नियम को जिसने भी अपने जीवन में अपनाया है उसे असीमित रूप से मिला है। और इसका सबसे बेहतरीन तरीका है प्रकृति के प्रति सम्मान की भावना रखना। प्रकृति का संरक्षण करना। भागदौड़ भरी जिंदगी में हम अपने बुनियादी जिम्मेदारी को भूलते जा रहे हैं। हमें हमारी क्षमताओं को पहचान कर विकसित करने की आवश्यकता है। साथ ही अपने अंदर ज्यादा से ज्यादा सकारात्मक विचारों को ही स्थान दें और कोशिश ये भी होनी चाहिए कि जो चीजें हमें नहीं मिली उनकी शिकायतों को छोड़ जो मिला है उसके लिए ईश्वर का धन्यवाद दें। इससे हम अपने जीवन में बड़ा बदलाव ला सकते हैं। सफलता प्राप्ति के अटल नियम सीखने होंगे।

इसे भी 👉 पढ़ें :

- हमारा व्यक्तित्व

अपने आत्मविश्वास कौशल पर विश्वास करें 


जिस भी प्रेरणादायक विषय पर आप पढना चाहते है आप हमें बताएं। हम आपकी पसंद के विषय पर जरूर आर्टिकल लिखेंगे।

टिप्पणियां अवश्य दें।

धन्यवाद 🙏








एक टिप्पणी भेजें

1 टिप्पणियाँ

कृपया कमेंट में कोई भी लिंक ना डाले